नापाकी हालत में रोज़ा हो जाता है या नही

नापाकी हालत में रोज़ा हो जाता है या नही :- 

अगर कोई शख्स रोज़ा रखकर दिन में नापाक रहे, और इस नापाकी की वजह से उसकी नमाज़ क़ज़ा होती है तो उसके ऊपर नमाज़ छोड़ने का गुनाह अज़ीम होगा,

क्योंकि फ़र्ज़ नमाज़ छोड़ना इस्लाम मे सबसे बड़ा गुनाह माना गया है,

इसलिये नमाज़ की पावंदी किया करें

लेकिन इस नापाकी का इस रोज़े पे कोई असर नही पड़ेगा,

ये ख्याल करना के नापाकी में रोज़ा नही होगा ये एक ग़लतफ़हमी है,

यानि नापाकी हालत में रोज़ा हो जाता है,

अब ज़रा सोचो :-

नापाकी में रोज़ा हो तो जाएगा,

पर बिना नमाज़ के रोज़ा रखने से क्या फायदा ?

अगर कोई मजबूरी है तब तो ठीक है जैसे के - हमारी बहने priouds के वक़्त नापाक है,

तो ये कुदरती बात है, उनके ऊपर उस वक़्त नमाज़ क़ज़ा करने की इजाज़त है,

वो भी इस शर्त पे के priouds खत्म होने के बाद वो उन नमाज़ों को क़ज़ा करके पढें

अब जरा सोचो हम भाइयो की क्या मजबूरी है

हम रोज़ या दूसरे दिन नहाते है तो ग़ुस्ल करके क्यों नही नहाते है,

ग़ुस्ल करने में ज़्यादा वक़्त लग जायेगा क्या ?

पाकी मुस्लमान का आधा ईमान है,

ये आप साव जानते हो,

इसलिए पाक रहा करो

ये तो clear हो गया नापाकी हालत में रोज़ा हो जाएगा

पर क्या आपका दिल गवाही देगा बिना नमाज़ के रोज़ा रखे ?

बिना नमाज़ के रोज़े रखने से क्या फायदा

ये तो फांका हो गया न ?

नापाक रहना मोमिन की शान के खिलाफ है

क्योंकि इससे नमाज़ें क़ज़ा होती है

अल्लाह हमे और आपको ईमान के रास्ते पे चलने की तौफ़ीक़ अता फरमाये

अमीन

अल्लहुम्मा अमीन

0 views

©2020 by GS World